पुलिस महकमे में बड़ा बदलाव: अब नहीं देनी होगी परीक्षा, डीपीसी के जरिए होंगे प्रमोशन, सीएम गहलोत की घोषणा

अब नहीं देनी होगी परीक्षा, डीपीसी के जरिए होंगे प्रमोशन, सीएम गहलोत की घोषणा
Police
Ad

Highlights

सीएम गहलोत की इस घोषणा के बाद अब सिपाही से लेकर इंस्पेक्टर तक को प्रमोशन के लिए परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी। इनका प्रमोशन विभागीय पदोन्नति समिति (डीपीसी) के जरिए हुआ करेगा। 

जयपुर | स्वतंत्रता दिवस (Independence Day 2023) के मौके पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने राजस्थान के पुलिस महकमे को बड़ी सौगात दी है। 

राजधानी जयपुर के एसएमएस स्टेडियम में आयोजित राज्यस्तरीय कार्यक्रम के दौरान सीएम गहलोत ने पुलिस के प्रमोशनल सिस्टम में बदलाव का ऐलान करते हुए सिपाही से लेकर इंस्पेक्टर का प्रमोशन डीपीसी के आधार पर करने की बात कही है।

सीएम गहलोत की इस घोषणा के बाद अब सिपाही से लेकर इंस्पेक्टर तक को प्रमोशन के लिए परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी। 

इनका प्रमोशन विभागीय पदोन्नति समिति (डीपीसी) के जरिए हुआ करेगा। 

बता दें कि पुलिस विभाग में अभी प्रमोशन के लिए इन्हें परीक्षा देनी होती है। जबकि, दूसरे विभागों में डीपीसी के जरिए ही प्रमोशन होते हैं। 

इसी के साथ सीएम गहलोत ने राजस्थान पुलिस के 75 वर्ष पूरे होने पर कॉन्स्टेबल से लेकर डीजी तक राजस्थान पुलिस में पंचसती मेडल भी दिए जाने की घोषणा की है। 

राष्ट्रपति पदक से महिला पुलिस अधिकारी सम्मानित

आपको ये भी बता दें कि स्वतंत्रता दिवस पर राजस्थान की दो पुलिस महिला अधिकारियों को भी राष्ट्रपति पुलिस मेडल से सम्मानित किया गया।

इसी के साथ 16 पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को भी पुलिस पदक से सम्मानित किया। 

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इसके लिए राजस्थान की एडीजीपी पुलिस सिविल राइट्स स्मिता श्रीवास्तव और दूसरी अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस हाउसिंग बिनीता ठाकुर को चुना है।

राजस्थान पुलिस अधिकारियों को मिल रहे इस सम्मान के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राजस्थान पुलिस के मुखिया उमेश मिश्रा ने इन सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी है। 

Must Read: 58 सीटों पर खोले प्रत्याशियों के नाम, जानें किसे कहां से मिला टिकट ?

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :