JAIPUR: मुख्य सचिव ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों से किया संवाद

मुख्य सचिव ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों से किया संवाद
भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों से किया संवाद
Ad

Highlights

मुख्य सचिव ने कहा कि राजस्थान विविधताओं से भरा प्रदेश है जहाँ नवीकरणीय ऊर्जा, पर्यटन, खनिज, पेयजल, सिंचाई,  आदि के क्षेत्र में चुनौतियों के साथ-साथ सम्भावनायें भी मौजूद हैं। 

जयपुर | मुख्य सचिव  सुधांश पंत ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों को हमेशा सकारात्मक दृष्टिकोण, साफ नीयत और ईमानदारी से काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रशासनिक सेवा विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने का अवसर देती है, इसका लाभ उठाकर सदा सीखने की ललक रखनी चाहिए। उन्हें आमजन के जीवन को बेहतर एवं सरल बनाने के लिए बिना अहम के नई संभावनाओं को तलाशते रहना चाहिये। 

पंत बुधवार को शासन सचिवालय में भारतीय प्रशासनिक सेवा-2023 बैच के प्रशिक्षु अधिकारियों से संवाद कर रहे थे। इस दौरान मुख्य सचिव ने प्रशिक्षु अधिकारियों से परिचय कर उनसे अनुभव भी पूछे।

मुख्य सचिव ने भी इन अधिकारियों के साथ डिस्ट्रिक्ट ट्रैनिंग के अपने अनुभव साझा किये। उन्होंने बताया कि ट्रैनिंग के दौरान उन्हें कई अनुभवी एवं कर्मठ अधिकारियों का सानिध्य मिला एवं उनसे सीखी हुई बारीकियों ने चुनौतियों से पार पाने की दिशा में हमेशा पथ प्रदर्शक का काम किया।   

मुख्य सचिव ने कहा कि राजस्थान विविधताओं से भरा प्रदेश है जहाँ नवीकरणीय ऊर्जा, पर्यटन, खनिज, पेयजल, सिंचाई,  आदि के क्षेत्र में चुनौतियों के साथ-साथ सम्भावनायें भी मौजूद हैं।

इस दिशा में हम प्रदेश के विकास की सोच के साथ आगे बढ़कर काम कर सकते हैं। उन्होंने प्रशिक्षु अधिकारियों को उनके उज्व्वल भविष्य की शुभकामनाए दी।

इस दौरान वर्ष 2023 बैच के राजस्थान कैडर के 9 प्रशिक्षु अधिकारी  अक्षत कुमार सिंह,  अवुला साईकृष्णा,  नयन गौतम,  भरत जय प्रकाश मीना, महिमा कसाना,  माधव भारद्वाज,  रजत यादव,  राहुल श्रीवास्तव और सोनू कुमारी उपस्थित रहे।

Must Read: प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी पर लोगों ने उतारा गुस्सा, पोस्टर फाड़े, पुतला जलाया 

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :