पहले विरोध, अब मान-मनौव्वल: सचिन पायलट के घर पहुंचे सीएम गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा, सियासी लोग बोले- टिकट न कट जाए इसलिए...

सचिन पायलट के घर पहुंचे सीएम गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा, सियासी लोग बोले- टिकट न कट जाए इसलिए...
CM Ashok Gehlot OSD Lokesh Sharma
Ad

Highlights

रविवार को सीएम के ओएसडी लोकेश शर्मा सुबह सचिन पायलट से मुलाकात करने उनके घर पहुंचे थे। जिसके बाद से ही कई तरह की चर्चा शुरू हो गई। पिछले 5 सालों में यह पहला मौका है जब लोकेश शर्मा ने सचिन पायलट से अकेले में गुफ्तगू की है.

जयपुर | चुनावों से पहले तक सचिन पायलट का जमकर विरोध और बयानबाजी करने वाले सीएम अशोक गहलोत के ओएसडी अब सचिन पायलट के खेमे में दिखाई दिए हैं। 

जिसके बाद से सियासी गलियारों में चर्चा है कि कहीं टिकट न कट जाए इसलिए पायलट के घर मान-मनौव्वल करने उनके घर पहुंचे हैं। खास बात यह है कि पिछले 5 सालों में यह पहला मौका है जब लोकेश शर्मा ने सचिन पायलट से अकेले में मुलाकात की है।

हालांकि, लोकेश शर्मा ने ऐसी किसी भी बात से इनकार करते हुए कहा है कि राजस्थान में विधानसभा चुनाव है। कांग्रेस पार्टी ने मुझे सेंट्रल वॉर रूम का सह-अध्यक्ष भी बनाया है।

आने वाले चुनावों को लेकर हमारी मुलाकात कैसे हो छवि मजबूत हो, क्या सुधार किए जाएं और हम पूरी ताकत से चुनाव लड़ें। जितने भी सुधार संभव हों, उसके लिए हमें सुझाव और मार्गदर्शन की जरूरत है।  

उन सभी के बारे में चर्चा करने के लिए सचिन जी के पास आए हैं। पायलट हमारे वरिष्ठ नेता है ऐसे में इनकी सलाह और मार्ग दर्शन के अनुसार ही आगे बढ़ना है सबको। हम सभी को चुनावों में एकजुट होकर जाना है।

दरअसल, रविवार को सीएम के ओएसडी लोकेश शर्मा सुबह सचिन पायलट से मुलाकात करने उनके घर पहुंचे थे। जिसके बाद से ही कई तरह की चर्चा शुरू हो गई। 

शर्मा ने पायलट के खिलाफ सोशल मीडिया पर खोला था मोर्चा

ये तो सभी को पता है कि राजस्थान में 2020 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बगावत पर उतरे सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों का लोकेश शर्मा ने भी खुलकर विरोध किया था।

शर्मा ने पायलट के खिलाफ सोशल मीडिया पर भी मोर्चा खोलते हुए खूब बयानबाजी की थी। लेकिन अब गेंद पायलट के पाले में आ गई और लोकेश शर्मा को टिकट के लिए अपने विरोधी के पास जाना ही पड़ा।

चुनाव लड़ना चाहते हैं लोकेश शर्मा

लोकेश शर्मा भी विधानसभा चुनाव में अपने हाथ आजमाना चाहते हैं। इसके लिए वे पहले भी कई बार चुनाव लड़ने की इच्छा जता चुके हैं। 

शर्मा बीकानेर पश्चिम या भीलवाड़ा विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में उतरना चाहते हैं। 

ऐसे में अब अगर सचिन पायलट उनके नाम पर मुहर लगाने से मना कर देते हैं तो उनके लिए मुश्किल खड़ी हो सकती है। 

Must Read: रविन्द्रसिंह भाटी ने विधानसभा में फिर गाया गरीबों का दर्द

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :