चुटकी लेने में पीछे नहीं नेता प्रतिपक्ष: राहुल गांधी को देख खड़े हुए सीएम गहलोत, राठौड़ बोले- गहलोत के पैर की दवा राहुल के पास

राहुल गांधी को देख खड़े हुए सीएम गहलोत, राठौड़ बोले- गहलोत के पैर की दवा राहुल के पास
Rahul Gandhi - Ashok Gehlot
Ad

Highlights

बांसवाड़ा के मानगढ़ धाम में राहुल गांधी के दौरे के दौरान सीएम गहलोत को फिर से खड़ा देख नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ तो चुटकी लेने से भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत के पैर का फैक्चर बड़े चिकित्सक ठीक नहीं कर सके, लेकिन राहुल गांधी के आते ही वे ठीक होकर खड़े हो गए। 

जयपुर | पिछले कई दिनों से पैरों में चोट लगी होने के कारण मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व्हीलचेयर पर बैठकर ही अपने सभी कार्य निपटा रहे हैं। 

चोटिल होने के चलते सीएम गहलोत चुनावी सीजन में भी प्रचार-प्रसार करने के लिए बाहर नहीं निकल पा रहे हैं।

हालांकि, दो दिन पहले बांसवाड़ा के मानगढ़ धाम में राहुल गांधी के दौरे के दौरान सीएम गहलोत भी वहां सभा में पहुंचे और खड़े होकर सबकों चौंका दिया।

सीएम गहलोत ने खड़े होकर राहुल गांधी का स्वागत किया तो वहां मौजूद लोगों से ज्यादा भाजपा को ये सबसे ज्यादा चौंकाने वाला दिखा। 

सीएम गहलोत को फिर से खड़ा देख नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ तो चुटकी लेने से भी पीछे नहीं रहे। 

उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत के पैर का फैक्चर बड़े चिकित्सक ठीक नहीं कर सके।

लेकिन राहुल गांधी के आते ही वे ठीक होकर खड़े हो गए। 

कैसे हुआ सीएम के पैर में फैक्चर

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पिछले दिनों अपने आवास पर कक्ष में जाते समय अचानक पैर मुड़ने से चोटिल हो गए थे। 

उनके एक पैर के अंगूठे में नुकीली चीज से चोट लग गई। जिससे अंगूठे का नाखून टूट गया था।

इसके बाद उन्हें एसएमएस अस्पताल की इमरजेंसी में ले जाया गया। 

डॉक्टरों ने उनके दोनों पैरों के एक्सरे किए तो एक पैर के अंगूठे मे मामूली फ्रेक्चर दिखाई दिया। जिसके बाद कच्चा प्लास्टर बांधा गया। 

वहीं दूसरे पैर के अंगूठे में लगी चोट पर टांके लगाए गए। इसके बाद डॉक्टर्स ने उन्हें आराम करने की सलाह दी थी। तभी से सीएम गहलोत अपने आवास से कार्य कर रहे हैं। 
वे व्हीलचेयर पर ही आते-जाते हैं, लेकिन राहुल की मानगढ़ सभा में वे खड़े दिखाई दिए तो विपक्ष के निशाने पर आ गए। हालांकि उस दौरान भी उनके पास वॉकर मौजूद था।

Must Read: कांग्रेस के नेता पंजा लड़ा रहे हैं ऐसे में राजस्थान में खिलते 'कमल' को रोकने के लिए कितने प्रभावी होंगे कमलनाथ

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :