मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश स्थापना दिवस: राज्यपाल कलराज मिश्र ने अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम स्थापना दिवस पर दी बधाई और शुभकामनाएं

राज्यपाल कलराज मिश्र ने अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम स्थापना दिवस पर दी बधाई और शुभकामनाएं
अरुणाचल प्रदेश एवं मिजोरम राज्य स्थापना दिवस समारोह
Ad

Highlights

अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम की प्राकृतिक संपन्नता और भेदभाव रहित परस्पर मेलजोल की संस्कृति की भी इस दौरान विशेष रूप से सराहना  की

जयपुर । राज्यपाल  कलराज मिश्र ने अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम राज्य के स्थापना दिवस पर बधाई और शुभकामनाएं दी है।

राज्यपाल कलराज मिश्र ने राजभवन में मंगलवार को इन दोनों ही राज्यों के निवासियों से मुलाकात कर उनसे संवाद भी किया। उन्होंने इस दौरान कहा कि उत्तर-पूर्व के यह दोनों ही राज्य भारत की संप्रभुता से जुड़े जनजातीय संस्कृति और परंपराओं की अनूठी धरोहर लिए है।

अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम की प्राकृतिक संपन्नता और भेदभाव रहित परस्पर मेलजोल की संस्कृति की भी इस दौरान विशेष रूप से सराहना  की।
 
 कलराज मिश्र ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश  और मिजोरम विविधता में एकता की भारत भूमि के विशिष्ट उदाहरण हैं। उन्होंने ’एक भारत श्रेष्ठ भारत’ के लिए सभी को मिलकर कार्य करने पर भी जोर दिया।

इससे पहले उन्होंने इन दोनों राज्यों की स्थापना से जुड़े इतिहास और संविधान से जुड़ी भारतीय संस्कृति के बारे में भी स्थानीय जनों से संवाद किया।
 
अरुणाचल  प्रदेश  और मिजोरम के लोगों ने स्थापना दिवस पर राजभवन में आने के अपने अनुभव साझा कर राज्यपाल कलराज मिश्र का आभार जताया।
मिजोरम की सुश्री आपुई और सुश्री फेली ने गीत और मिजोरम अरुणाचल के लोगों ने वहां की संस्कृति से जुड़ी समवेत प्रस्तुति दी। सभी ने बाद में राजभवन स्थित संविधान उद्यान का अवलोकन कर सराहना की। इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव  गौरव गोयल और प्रमुख विशेषाधिकारी  गोविन्द राम जायसवाल भी उपस्थित रहे।

Must Read: सीएम योगी बोले- ज्ञानवापी में त्रिशूल का क्या काम, ओवैसी का आया जवाब- उनका बस चले तो बुलडोजर चला दे

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :