अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस: नर्स हमेशा मरीजों की मदद एवं सेवा में रहती है : डॉ रामा शंकर भारती

नर्स हमेशा मरीजों की मदद एवं सेवा में रहती है : डॉ रामा शंकर भारती
राजकीय नर्सिंग महाविद्यालय जालोर
Ad

Highlights

  • नर्स हमेशा अपनी सर्वश्रेष्ठ सेवाएं देने और मरीजों को ठीक करने में निस्वार्थ कार्य रही है।
  • अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को एक महान सलामी की आवश्यकता है।

जालोर | इंटरनेशनल नर्स दिवस को फ्लोरेंस नाइटेंगल (Florence Nightingale) के जन्मदिवस को मनाया जाता है कार्यक्रम का शुभारंभ रविवार को राजकीय नर्सिंग महाविद्यालय में कैंडल लाइट सेरेमनी एवं फ्लोरेंस नाइटेंगल (Florence Nightingale)शपथ ग्रहण समारोह के साथ किया गया। अतिथियों द्वारा नर्सिंग की जन्मदात्री फ्लोरेंस नाइटेंगल एवं मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष द्वीप प्रज्ज्वलित कर एवं ईश वंदना करते हुए इटली की नर्स फ्लोरैंच नाईटेंगल के जन्म दिन को राष्ट्रीय नर्स दिवस के रूप में मनाया जाता है इसमें कॉलेज प्राचार्य डॉ.पवन ओझा ने अतिथियों किया।

मुख्य अतिथि सीएमएचओ जालोर डॉ.रमाशंकर भारती (rama shankar bharti) ने प्रशिक्षणार्थियों को अंतर्राष्ट्रीय नर्सिंग दिवस की शुभकामनाएं देकर कहा कि नर्सिंग एक विशिष्ट और आदर्श प्रोफेशन हैं। क्योंकि नर्स हमेशा अपनी सर्वश्रेष्ठ सेवाएं देने और मरीजों को ठीक करने में निस्वार्थ कार्य रही है। पीएमओ डॉ.पूनमचंद टाक (Dr.poonam tak) ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेता रहे विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दीं। कहा कि इन अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को एक महान सलामी की आवश्यकता है।

नर्स दिवस के उपलक्ष में आयोजित विभिन्न साप्ताहिक गतिविधियों में विजेता रहे प्रशिक्षणार्थियों सहित सेमेस्टर परीक्षा में प्रथम रही शिवानी,द्वितीय मुकेश,तृतीय स्थान पर रही सुमन और अनीता को भी कार्यक्रम के दौरान पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में दौरान विद्यार्थियों द्वारा कई मनमोहक नृत्य,गायन,नाट्य प्रस्तुतियां दीं। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ नर्सिंग अधिकारी एवं फैकल्टी शिव कुमार दवे द्वारा किया गया। इस दौरान जीएनएमटीसी प्रधानाचार्या वीना तेतरवाल,एमसीएच नर्सिंग अधीक्षक पुष्पेंद्र भारती,ज़िला चिकित्सालय नर्सिंग अधीक्षक दयाराम चौहान, रमेश गहलोत,नर्सिंग फैकल्टी मनीष कुमार,राकेश टाक,किशोर कुमार,मनोज कुमार,विजयलक्ष्मी दवे सहित कई संख्या में स्टाफ एवं प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।

Must Read: IPS 2021 के बैच में राजस्थान ने देश को दिए 27 आईपीएस, प्रदेश को मिले छह, सिर्फ दो राजस्थानियों को मिला प्रदेश कैडर

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :