सांचौर में महापंचायत: भाजपा को अल्टीमेटम, देवजी पटेल के टिकट पर कर लें पुनर्विचार, नहीं तो भुगतना होगा परिणाम  

भाजपा को अल्टीमेटम, देवजी पटेल के टिकट पर कर लें पुनर्विचार, नहीं तो भुगतना होगा परिणाम  
सांचौर में महापंचायत
Ad

Highlights

जीवाराम ने कहा कि सांसद देवजी पटेल ने न सिर्फ हमारे साथ धोखा किया है बल्कि छत्तीस कौम के लोगों के साथ भी धोखा किया है। इसी के साथ उन्होंने ये भी कहा कि अगर छत्तीस कौम की इच्छा हो तो मैं चुनाव लड़ने को तैयार रहूंगा। 

सांचौर | Sanchore Mahapanchayat: राजस्थान की सांचौर विधानसभा पर बड़ा उफान आने के संकेत सामने आ रहे हैं।  ये सीट भारतीय जनता पार्टी के लिए गले की फांस बनती जा रही है। 

इस सीट पर भाजपा ने सांसद देवजी पटेल को विधानसभा का टिकट देकर मैदान में उतारा है। 

उसके बाद से ही इस सीट पर भाजपाईयों में ही सियासी जंग देखी जा रही है। 

यहां से दावेदारी कर रहे दानाराम और जीवाराम ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। 

दरअसल, सांचौर सीट से पहले ही भाजपा के दो दावेदारों जीवाराम चौधरी और दानाराम चौधरी ने टिकट के लिए ताल ठोक रखी थी, लेकिन दोनों का ही टिकट काटते हुए पार्टी ने देवजी पटेल पर दांव खेला है। 

ऐसे में अब दोनों उम्मीदवारों जीवाराम और दानाराम ने एक होकर देवजी पटेल और भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। 

मंगलवार को जीवाराम और दानाराम ने सांचौर में महापंचायत बुलाई। जिसमें भाजपा पार्टी को कड़ी चेतावनी दे डाली है। 

देवजी पटेल के टिकट पर पुनर्विचार, नहीं तो भुगतना होगा परिणाम  

आज सांचौर में हुई महापंचायत में भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को चेतावनी देते हुए ऐलान किया गया कि पार्टी 6 नवम्बर तक देवजी पटेल के टिकट पर पुनर्विचार कर लें, अन्याथा भाजपा को इसका परिणाम भुगतना होगा। 

इस दौरान छत्तीस कौम ने एकता दिखाते हुए देवजी पटेल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। 

दानाराम बोले- देवजी पटेल ने भाई-भाई को लड़वाया

महापंचायत में भाजपा नेता और टिकट की दावेदारी कर रहे दानाराम चौधरी ने सांसद देवजी पटेल पर आरोप लगाते हुए कहा कि सांसद ने भाई-भाई को लड़ाने का काम किया। 

मैने पांच साल जो मेहनत की उस पर सांसद महोदय ने पानी फेरा है। मेरे साथ बहुत बड़ा धोखा किया गया है। 

मै जयपुर-दिल्ली जाता था तो वहां शीर्ष नेतृत्व कहता था आप दानाराम जी भोले हो, आपके साथ बहुत बड़ा धोखा होगा, लेकिन मैं नहीं माना। 

मैंने सांसद महोदय पर हद से ज्यादा विश्वास किया जिसका आज यह फल मुझे मिला है।

उन्होंने कहा कि सांचौर की जनता के लिए मैंने सबकुछ त्याग दिया, अब हर समय अपनी जनता के बीच ही रहूंगा।

उन्होंने जनता को भरोसा दिया कि अब मैं हर सुख-दुख में आपके साथ रहूंगा, आपके वोट की ताकत ही मेरी असली जीत है।

जीवाराम चौधरी से आग्रह- इस बार आप लड़े चुनाव, हम सब आपके साथ

उन्होंने कहा कि, मेरे पास जनता की सेवा के लिए बहुत समय है।  इस बार मैं ही नहीं बल्कि हम सब जीवाराम जी के साथ खड़े हैं। जीवाराम चौधरी इस बार चुनाव अवश्य लड़े।

इस बार भाजपा-कांग्रेस नहीं सिर्फ जीवाराम को जाएगा वोट

उन्होंने सभी से आग्रह करते हुए कहा कि इस बार यहां से न तो भाजपा को जाएगा और न ही कांग्रेस को वोट जाएगा। अगर वोट जाएगा तो सिर्फ जीवाराम को जाएगा। 

उन्होंने कहा कि, मुझे मेरे राजनीतिक भविष्य की परवाह नहीं है। मेरा भविष्य तो छत्तीस कौम है। 

जीवाराम चौधरी बोले- अगर आपकी इच्छा तो मैं चुनाव लड़ने को तैयार

इस दौरान महापंचायत में सांसद देवजी पटेल पर तंज कसते हुए सांचौर के पूर्व विधायक जीवाराम चौधरी ने 2018 में चुनावी सभा में घोड़े और हाथी वाली बात को दोहराया। 

जीवाराम ने कहा कि सांसद देवजी पटेल ने न सिर्फ हमारे साथ धोखा किया है बल्कि छत्तीस कौम के लोगों के साथ भी धोखा किया है। 

इसी के साथ उन्होंने ये भी कहा कि अगर छत्तीस कौम की इच्छा हो तो मैं चुनाव लड़ने को तैयार रहूंगा। 

अब अगर सांचौर विधानसभा सीट से जीवाराम चौधरी चुनावी मैदान में उतर जाते हैं तो ये भाजपा के लिए बहुत बड़ी परेशानी होगी। 

Must Read: बीजेपी की ओर से चुनाव प्रबंधन समिति की घोषणा, नारायण पंचारिया बने संयोजक, अर्जुन मेघवाल को भी बड़ी जिम्मेदारी

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :