BJP Rajasthan: बीजेपी में श्रवण सिंह बगड़ी का कद बढ़ा, दीया कुमारी, भजनलाल और जौनापुरिया अब संगठन में पदों पर नहीं

बीजेपी में श्रवण सिंह बगड़ी का कद बढ़ा, दीया कुमारी, भजनलाल और जौनापुरिया अब संगठन में पदों पर नहीं
Jitendra Gothwal, Shrawan Singh Bagdi and CP Joshi
Ad

Highlights

नई कार्यकारिणी में 30 नेताओं के साथ, जिनमें अनुभवी और नए शामिल होने वाले दोनों शामिल हैं, राजस्थान में भाजपा और उद्देश्य के साथ लोकसभा में किंचित जटिल राजनीतिक परिदृश्य को पार करने के लिए तैयार होने की कोशिश कर रही है। 

ज्योति मिर्धा को पार्टी में उपाध्यक्ष बनाया गया हैं। इसके साथ ही नए चेहरे के तौर पर पाली के नाहर सिंह जोधा को भी उपाध्यक्ष बनाया गया है। वहीं गुर्जर समाज से ओमप्रकाश भड़ाना को भी पार्टी ने महामंत्री बनाया है।

जयपुर | बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी ने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कार्यकारिणी का पुनर्गठन करके  नए संदेश दिए हैं। अब तक उपाध्यक्ष रहे श्रवण सिंह बगड़ी को पदोन्नत करके प्रदेश महामंत्री का दर्जा देकर बीजेपी ने बड़ा ​संदेश दिया है। बगड़ी को एक प्रमुख पद पर पदोन्नत करना भाजपा की उभरती प्रतिभा और जमीनी स्तर के नेतृत्व के समर्थन को रेखांकित करता है।

इनके अलावा संतोष अहलावत और विधायक जितेंद्र गोठवाल को भी महासचिव बनाकर बीजेपी ने लोकसभा चुनावों की जमीन को मजबूत किया है। कांग्रेस से बीजेपी में आई और विधानसभा चुनाव हार चुकीं ज्योति मिर्धा सहित 11 नए नेताओं को प्रदेश कार्यकारिणी में जगह दी गई हैं। जगवीर छाबा, प्रियंका मेघवाल, भानुप्रताप सिंह, नीलम गुर्जर, कृष्णा कटारा और श्याम अग्रवाल को नई कार्यकारिणी से बाहर कर दिया गया।

हालाँकि, इस फेरबदल में भजनलाल शर्मा और दीया कुमारी तथा सुखबीर सिंह जौनापुरिया जैसे बड़े नेताओं की विदाई भी हुई है।

नई कार्यकारिणी में 30 नेताओं के साथ, जिनमें अनुभवी और नए शामिल होने वाले दोनों शामिल हैं, राजस्थान में भाजपा और उद्देश्य के साथ लोकसभा में किंचित जटिल राजनीतिक परिदृश्य को पार करने के लिए तैयार होने की कोशिश कर रही है। 

पिछली कार्यकारिणी में प्रदेश उपाध्यक्ष रहे तीन नेताओं को प्रदेश महामंत्री बनाया गया है। वहीं नए चेहरों में 2 को उपाध्यक्ष, 1 को महामंत्री, 7 को मंत्री और 1 को सह कोषाध्यक्ष बनाया गया है।

इन्हें मिली अहम जिम्मेदारी
बीजेपी में काम के लिहाज से महामंत्री का पद महत्वपूर्ण है। ऐसे में प्रदेश की नई कार्यकारिणी में उपाध्यक्ष रहे श्रवण सिंह बगड़ी, संतोष अहलावत और विधायक जितेंद्र गोठवाल को महामंत्री की जिम्मेदारी सौंपी गई हैं।

ज्योति मिर्धा को पार्टी में उपाध्यक्ष बनाया गया हैं। इसके साथ ही नए चेहरे के तौर पर पाली के नाहर सिंह जोधा को भी उपाध्यक्ष बनाया गया है। वहीं गुर्जर समाज से ओमप्रकाश भड़ाना को भी पार्टी ने महामंत्री बनाया है।

इन नए चेहरों को मिली जगह
सीपी जोशी ने प्रदेश की नई कार्यकारिणी में ओमप्रकाश भड़ाना, ज्योति मिर्धा और नाहर सिंह जोधा सहित 11 नए चेहरों को जगह दी हैं। इनमें भूपेंद्र सैनी, अनुसुइया गोस्वामी, अजीत मांडण, स्टेफी चौहान, मिथिलेश गौतम, आईदान सिंह भाटी और अनिता कटारा को मंत्री बनाया गया है। अनिल सिसोदिया को सह-कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई है।

ये हुए कार्यकारिणी से बाहर
नई कार्यकारिणी से 10 नेताओं को बाहर भी किया गया हैं। इनमें पार्टी में सालों से प्रदेश महामंत्री का पद संभाल रहे भजनलाल शर्मा और उपाध्यक्ष दिया कुमारी को मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री बनने पर संगठन से बाहर किया गया हैं।

वहीं पिछली कार्यकारिणी में मंत्री रहे हीरालाल नागर को भजनलाल कैबिनेट में मंत्री बनने पर नई कार्यकारिणी में जगह नहीं दी गई। इसके साथ ही उपाध्यक्ष रहे टोंक-सवाईमाधोपुर सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया को भी नई कार्यकारिणी में जगह नहीं दी गई हैं।

नई कार्यकारिणी में 30 नेता शामिल
जोशी की पुरानी कार्यकारिणी में 29 पदाधिकारी थे। नई कार्यकारिणी में 30 नेताओं को शामिल किया गया। वहीं 19 नेता ऐसे हैं, जो पुरानी कार्यकारिणी में भी शामिल थे और उन्हें नई कार्यकारिणी में भी जगह दी गई।

इनमें तिज़ारा विधायक बाबा बालकनाथ, राज्यसभा सांसद चुन्नीलाल गरासिया, मुकेश दाधीच, सरदार अजयपाल सिंह, प्रभुलाल सैनी, सीआर चौधरी, मोतीलाल मीणा, दामोदर अग्रवाल, जितेंद्र गोठवाल, श्रवण सिंह बगड़ी, संतोष अहलावत, विजेंद्र पूनिया, वासुदेव चावला, पिंकेश पोरवाल, महेंद्र कुमावत, अनंतराम विश्नोई, सांवलाराम देवासी और पंकज गुप्ता को नई कार्यकारिणी में भी जगह मिली।

Must Read: नड्डा बोले- कांग्रेस मतलब परिवारवाद, इन्हें देश की नहीं परिवार की चिंता है, राहुल बाबा और...

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :