पूर्व मंत्री राजेन्द्रसिंह गुढ़ा का कहना: सुखदेव सिंह गोगामेड़ी का मर्डर एक राजनीतिक हत्या है और अशोक गहलोत उसके लिए जिम्मेदार

Ad

Highlights

थिंक से बात करते हुए राजेन्द्र गुढ़ा ने कहा कि गोगामेड़ी को थ्रेट था और वे उनके साथ राजस्थान के एडीजी क्राइम, डाइरेक्टर जनरल आफ पुलिस तथा गृह सचिव से मिले थे। परन्तु किसी ने भी उन्हें सुरक्षा नहीं दी। यही नहीं गुढ़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गोगामेड़ी की हत्या के लिए जिम्मेदार है क्योंकि इन अधिकारियों का कहना था कि उपर से आदेश मिलना है।

जयपुर । श्री राजपूत राष्ट्रीय करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की नृशंस हत्या के मामले में पूर्व मंत्री राजेन्द्र सिंह गुढ़ा ने कहा है कि इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिम्मेदार है। गुढ़ा ने कहा कि इंटेलीजेंस इनपुट था लगातार मांग की गई, इसके बावजूद सुखदेव सिंह को पुलिस सुरक्षा नहीं दी गई। यह एक राजनीतिक हत्या है।

थिंक से बात करते हुए राजेन्द्र गुढ़ा ने कहा कि गोगामेड़ी को थ्रेट था और वे उनके साथ राजस्थान के एडीजी क्राइम, डाइरेक्टर जनरल आफ पुलिस तथा गृह सचिव से मिले थे। परन्तु किसी ने भी उन्हें सुरक्षा नहीं दी। यही नहीं गुढ़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गोगामेड़ी की हत्या के लिए जिम्मेदार है क्योंकि इन अधिकारियों का कहना था कि उपर से आदेश मिलना है।

गृह सचिव के उपर गृहमंत्री होते हैं जो कि खुद गहलोत थे। ऐसे में सीधे तौर पर वे इस राजनीतिक हत्या के​ लिए जिम्मेदार है। जब गुढ़ा से पूछा गया कि गोगामेड़ी कांग्रेस से टिकट मांग रहे थे और आनंदपाल हत्याकांड में कांग्रेस के काम भी आए थे तो वे बोले कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी का सभी ने इस्तेमाल किया। अपना काम निकाला और छोड़ दिया गया।

एक साल में इस तरह की तीन वारदात होने के सवाल पर गुढ़ा बोले कि महिला अत्याचार का सवाल उठाया तो बर्खास्त कर दिया गया था। उन्होंने कहा कि गोगामेड़ी के परिवार को आर्थिक संबल और अन्य बातें बाद की है।

हमारी प्राथमिकता यह है कि इस मामले की गहन जांच हो तथा गोगामेड़ी को सुरक्षा नहीं उपलब्ध करवाने वाले अफसरों के खिलाफ राजस्थान उच्च न्यायालय के मौजूदा न्यायाधीश से न्यायिक जांच हो। उन्होंने मामले में कार्यवाही नहीं होने तक धरना प्रदर्शन जारी रखने की बात कही और कहा कि पूरा राजस्थान बंद है और यदि हालात बिगड़े तो उसके लिए जिम्मेदार पुलिस प्रशासन होगा।

Must Read: एम्स में करवाया गया भर्ती, चल रहा उपचार

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :