Rajasthan Vidhansabha election 2023: कितनी संपत्ति के मालिक हैं 12वीं पास सांसद और महंत, इन दिनों क्यों हैं चर्चा में।

कितनी संपत्ति के मालिक हैं 12वीं पास सांसद और महंत, इन दिनों क्यों हैं चर्चा में।
Baba Balaknath
Ad

Rajasthan Vidhansabha Chunav 2023 : राजस्थान विधानसभा चुनावों में अलवर की तिजार सीट से बीजेपी ने बाबा बालकनाथ को प्रत्याशी बनाया है।

नामांकन भरने के साथ ही बाबा बालकनाथ की पूरे प्रदेश में चर्चा है। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं बाबा बालकनाथ कौन हैं और कितनी संपत्ति के मालिक हैं फिलहाल चर्चा में रहने का क्या कारण है? 

दरअसल, बाबा बालकनाथ ने 1 नवंबर को उम्मीदवार के तौर पर नामांकन (Baba Balaknath nomination) भरा था इसके बाद इसी दिन जनसभा का आयोजन भी किया गया जिसमें यूपी के सीएम बुलडोजर बाबा योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) भी शामिल हुए,

इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने गौहत्या और हिंदुत्व के मुद्दें पर वोट मांगे और राजस्थान में बीजेपी को जिताने की अपील की। इसके बाद से ही बाबा बालकनाथ चर्चा में है। 

कौन है बीजेपी प्रत्याशी बालक नाथ

बाबा बालकनाथ राजस्थान के अलवर जिले के कोहराना गांव के रहने वाले हैं। और ये यादव किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं

16 अप्रैल 1984 को जन्में बाबा बालकनाथ की उम्र 39 वर्ष है। फिलहाल, बालक नाथ की शादी नहीं हुई और नाथ संप्रदाय की सबसे बड़ी गद्दी रोहतक स्थित स्थल बोहर के महंत है।

इस मठ की रोहतक में यूनिवर्सिटी, कॉलेज, मेडिकल कॉलेज, स्कूल, हॉस्पिटल सहित बहुत बड़ा साम्राज्य है। स्थल बोहर की गद्दी का जो महंत होता है वो पूरे साम्राज्य का आधिपत्य होता है।

नामांकन के दौरान बाबा की संपत्ति का खुलासा हुआ है। 2019 के लोकसभा चुनाव में जब उन्होंने नामांकन पत्र दाखिल किया था। उस समय बालकनाथ के पास 3.52 लाख रुपए थे|

सांसद का वेतन मिलने के बाद इसमें बढ़ोतरी हुई है। और अब यह बढ़कर 13 लाख 29 हजार पांच सौ अठावन रुपए हो गई है। 

अलवर की तिजारा विधानसभा (Tijara Assembly) सीट राजस्थान की हॉट सीटों में शामिल हो चुकी है। यहां से सांसद बाबा बालक नाथ (Baba Balak Nath) को भाजपा ने प्रत्याशी बनाया है।

तो पहले ही दिन से बाबा बालक नाथ हमेशा चर्चा में बने हुए हैं। तिजारा में हुई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की सभा के बाद पूरे देश में बालक नाथ की चर्चा हो रही है। ऐसे में सबके जहन में यह सवाल आता है कि आखिर बालक नाथ कौन है और उनके पास क्या-क्या है। तो आज हम आपको बताएंगे कि आखिर बालक नाथ के पास कितनी संपत्ति है और कितना पैसा है।

कितने पढ़े लिखे हैं बाबा बालकनाथ

बाबा बालकनाथ 12वीं पास है। उनके परिवार ने उन्हें मात्र 6 वर्ष की उम्र में अध्यात्म का अध्ययन करने के लिए महंत खेतानाथ के पास भेज दिया था।

महंत खेतानाथ ने ही उन्हें बचपन में गुरुमख नाम दिया था। महंत खेतानाथ से अपनी शिक्षा दीक्षा को लेने के बाद वो महंत चांद नाथ के पास आ गए।

महंत चांद नाथ ने उनकी बालक के समान प्रवृत्तियों को देखकर उन्हें बालकनाथ कहना शुरू किया था। महंत चांद नाथ ने उन्हें 29 जुलाई 2016 को अपना उत्तराधिकारी चुना था।

महंत बालक नाथ योगी हिंदू धर्म के नाथ संप्रदाय के आठवें संत है। बालक नाथ योगी बाबा मस्तनाथ विश्वविद्यालय के चांसलर भी है। 

Must Read: - सरकार गाँव, गरीब और किसान की सरकार, हर पात्र व्यक्ति उठाए लाभ -मुख्यमंत्री

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :