भाजपा प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जल्द: यहां नए चेहरों को मौका तो यहां रिपीट होंगे पुराने उम्मीदवार

यहां नए चेहरों को मौका तो यहां रिपीट होंगे पुराने उम्मीदवार
BJP
Ad

Highlights

प्रदेश इकाई से सुझाए गए नामों पर गहन मंथन के बाद उम्मीदवारों के नामों पर सहमति दी है। अगले सप्ताह केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद अंतिम रूप से उम्मीदवारों के नामों पर मुहर लगा दी जाएगी। 

जयपुर |  राजस्थान में परिवर्तन यात्रा निकाल रही भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा चुनाव 2023 के लिए 48 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम करीब-करीब तय कर लिए हैं। 

बस इन पर आलाकमानों की मुहर लगना बाकी है। जिसके बाद इनकी लिस्ट जारी कर दी जाएगी। 

सूत्रों की माने तो प्रदेश इकाई से सुझाए गए नामों पर गहन मंथन के बाद उम्मीदवारों के नामों पर सहमति दी है। बीजेपी उम्मीदवारों के नामों को लेकर प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह का कहना है कि जब भी केंद्रीय चुनाव समिति चाहेगी तो उसके बाद कैंडिडेट डिक्लेयर कर दिए जाएंगे।

अगले सप्ताह केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद अंतिम रूप से उम्मीदवारों के नामों पर मुहर लगा दी जाएगी। 

25 सितंबर को राजधानी जयपुर में परिवर्तन यात्रा के समापन पर होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महारैली के बाद उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी जाएगी। 

सूत्रों की माने तो भाजपा ने राजस्थान की 200 सीटों को चार वर्गों में विभाजित किया है। जिसमें फिलहाल ए और डी वर्ग की सीटों के नामों पर ही मंथन हुआ है। 

भाजपा सबसे पहले लगातार तीन चुनावों में हारने वाले डी वर्ग की सीटों के उम्मीदवारों की घोषणा करेगी।

जिससे इन कमजोर सीटों पर प्रत्याशी को पूरे क्षेत्र में चुनाव प्रचार करने का ज्यादा से ज्यादा मौका मिल सकेगा।

इन्हें रखा गया ए वर्ग में और इन्हें डी वर्ग में

जानकारी में सामने आया है कि 2008 से लगातार तीन बार जिन सीटों पर भाजपा को जीत मिली है, उन्हें ए श्रेणी में रखा गया है। 

वहीं, जिन सीटों पर प्रत्याशी को लगातार तीन बार हार का सामना करना पड़ा है उन सीटों को डी श्रेणी में रखा गया है। 

इसी के साथ बी और सी श्रेणी की सीटें वे है जिन पर कभी हार तो कभी जीत का सिलसिला रहा है। 

माना जा रहा है ए श्रेणी की 29 सीटों पर उन्हीं जितांऊ उम्मीदवारों को फिर से मौका दिया जाएगा, लेकिन डी श्रेणी की 19 सीटों पर नए चेहरे जनता के सामने उतारे जाएंगे। 

Must Read: आजादी के बाद का सबसे बड़ा घोटाला, चम्बल-सवाई माधोपुर-नादौती पेयजल योजना पर काम शुरू नहीं किया तो कंपनी पर होगी सख्त कार्रवाई - जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :