मोदी के कार्यक्रम में सांसद का विरोध : पाली में मोदी तुझसे बैर नहीं, पीपी चौधरी तेरी खैर नहीं के नारे क्यों गूंजे

Ad

Highlights

पाली की राजनीति में जय जिनेन्द्र का नारा थक सा गया है और अब यहां का सांसद कौन बने, यह बड़ा सवाल है। विरोध मन से मंच तक पहुंच गया और यह स्थिति क्यों आई... विश्लेषण प्रदीप बीदावत के सा​थ...।

पाली | सांसद पीपी चौधरी के खिलाफ उन्हीं के पार्टी वालों ने नारेबाजी कर दी। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सम्बोधन लाइव हुआ और इसी आयोजन में विरोध पहली बार देखने को मिला।

पंचायती के लिए प्रसिद्ध है पाली। यह एकमात्र ऐसी लोकसभा सीट है राजस्थान में जहां तीन सीटें अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित है। खुद अनारक्षित होने के बावजूद! यहां तक कि चारों आरक्षित सीटों करौली, भरतपुर, गंगानगर और बीकानेर में भी दो—दो सीटें ही एससी वर्ग के लिए रिजर्व है।

खैर! यहां लोकसभा सीट पर कभी जैन समाज का दबदबा था और अब जाट—सीरवी भारी हैं। सीरवी समाज के जाए जन्मे और केन्द्र में राज्यमंत्री रह चुके पीपी चौधरी के खिलाफ बीजेपी में ही मोर्चा खुल गया है। सांसदी की दावेदारी कर रहे पुष्प जैन और ज्ञानचंद पारख खेमा अब एक हैं और सांसद के साथ मंच शेयर करने से बच रहे हैं। यह आने वाले लोकसभा चुनाव में पीपी चौधरी के लिए भारी पड़ सकता है।

हुआ यूं कि पाली में एक नारा भजनलाल सरकार के तीन कैबिनेट और एक राज्यमंत्री के बीच गूंजा। मोदी तुझसे बैर नहीं, पीपी चौधरी तेरी खैर नहीं।

पीपी चौधरी लगातार दो बार से पाली के लोकसभा सांसद हैं। राकेश भाटी और रेखा भाटी की मंच पर मौजूदगी ज्ञानचंद पारख और पुष्प जैन खेमे को क्यों रास नहीं आ रही है।

पाली राजस्थान की एकमात्र ऐसी लोकसभा सीट है, जहां तीन विधानसभाएं अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित है। बावजूद इसके यहां अधिकांश समय जैन सांसद रहे, लेकिन बीते तीन बार से यह सीट ओबीसी बहुल जाट या सीरवी समाज के पास रही है।

पाली की राजनीति में जय जिनेन्द्र का नारा थक सा गया है और अब यहां का सांसद कौन बने, यह बड़ा सवाल है। विरोध मन से मंच तक पहुंच गया और यह स्थिति क्यों आई... विश्लेषण प्रदीप बीदावत के सा​थ...।

Must Read: 4 लाख सरकारी नौकरियां, 400 में गैस सिलेंडर, 50 लाख का चिरंजीवी बीमा, ये भी किए बड़े वादे

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :