समीक्षा बैठक: पौधरोपण के साथ TOFR के तहत 4 करोड़ पौधों का किया जायेगा वितरण - मुख्य सचिव

पौधरोपण के साथ TOFR के तहत 4 करोड़ पौधों का किया जायेगा वितरण - मुख्य सचिव
वन विभाग की मुख्य सचिव अपर्णा अरोड़ा राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक में
Ad

Highlights

TOFR के तहत 4 करोड़ पौधों  किया जायेगा वितरण 

 आमजन को वन्यजीव संरक्षण एवं पौधरोपण के लिए जागरूक किये जाने की आवश्यकता है

 राज्य में राष्ट्रिय एवं राज स्तरीय राजमार्गों पर भी पौधरोपण का कार्य किया जाना सुनिश्चित किया

जयपुर। वन विभाग की मुख्य सचिव अपर्णा अरोड़ा ने कहा कि वन्यजीव संरक्षण (wildlife Reserve) के साथ राज्य को हरा भरा बनाने के लिए विभाग दृढ़ निश्चय होकर कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि वन विभाग की विभिन्न योजनाओं के माध्यम से आम जनता को वन्यजीव संरक्षण एवं पौधरोपण (plantation) के लिए जागरूक किये जाने की आवश्यकता है ताकि राज्य को हरा भरा प्रदेश बनाने की प्रतिज्ञा साकार हो सके। 

मुख्य सचिव बुधवार को अरण्य भवन में राज्य स्तरीय (state level) समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रही थी। इस अवसर पर उन्होंने विभाग द्वारा संचालित की जा रही विभिन्न योजनाओं की प्रगति समीक्षा (progress review) कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

इस दौरान उन्होंने विभाग द्वारा जिला स्तर पर किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि अधिकारी वन्यजीव एवं वन संरक्षण एवं सम्वृद्धि के लिए पूर्णतया संकल्पित होकर कार्य करें। 

अवैध खनन एवं अवैध अतिक्रमण पर पूर्णतया रोक 

बैठक के दौरान अपर्णा अरोड़ा ने अवैध खनन एवं अवैध अतिक्रमण पर निश्चित रूप से रोक लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन एवं अन्य सम्बंधित विभागों के साथ साझेदारी स्थापित कर अवैध खनन एवं अतिक्रमण पर रोक लगाना निश्चित किया  जाये।

उन्होंने उपस्थित जिला स्तरीय अधिकारीयों से वर्तमान परिस्तिथियों की समीक्षा पर आ रही  बाधाओं एवं समाधानों  पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि अतिक्रमण मुक्त जमीन पर चरागाह पुनर्प्राप्ति
(grassland recovery) का कार्य प्राथमिकता से किया जाये ताकि जमीन अपने मूल स्वरुप में वापस आ सके। 

70 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में होगा पौधरोपण  

मुख्य सचिव ने बैठक के दौरान विभाग की प्रमुख योजना TOFR (ट्री आउटसाइड फारेस्ट इन राजस्थान) की प्रगति समीक्षा (progress review) की | उन्होंने कहा कि राज्य में राष्ट्रिय एवं राज स्तरीय राजमार्गों पर भी पौधरोपण का कार्य सुनिश्चित किया जाये। बैठक के दौरान वन विभाग (Forest department) की जमीनों के सीमांकन कार्य सहित अन्य कार्यों पर भी विस्तार से चर्चा की गयी।

उन्होंने कहा कि इस वित्तीय वर्ष (financial year) में 70 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में पौधरोपण किया जाना है, वही योजना के तहत  4 करोड़ पौधों का वितरण आम जनता , एनजीओ (NGO), अन्य सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थाओं को वितरित किये जायेंगे वही कुल 552 पौधशाला (Nursery) में पौधरोपण (Plantation) का कार्य किया जा रहा है, जिसके तहत शानदार, स्थानीय एवं छांयादार पौधे तैयार करने पर विशेष ध्यान दिया जाये।

Must Read: आज पीएम नरेंद्र मोदी की रैली के बाद कभी भी जारी हो सकती है भाजपा की पहली सूची

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :