समीक्षा बैठक: पौधों का रखरखाव और उनकी सुरक्षा अगले 3 वर्ष तक हो सुनिश्चित- मुख्य सचिव

पौधों का रखरखाव और उनकी सुरक्षा अगले 3 वर्ष तक हो सुनिश्चित- मुख्य सचिव
माइक्रो प्लानिंग समीक्षा बैठक
Ad

Highlights

बैठक के दौरान समस्त जिलों के जिला कलेक्टर विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से जुड़े

कुमार ने जिलेवार पौधारोपण अभियान की तैयारियां, व्यवस्था और आम समस्यायों का जायजा लिया।

जयपुर। ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज के मुख्य सचिव अभय कुमार की अध्यक्षता में गुरुवार को शासन सचिवालय में सघन वृक्षारोपण अभियान की माइक्रो प्लानिंग (micro planning) को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित हुई। बैठक के दौरान समस्त जिलों के जिला कलेक्टर विडियो कांफ्रेसिंग (VC) के माध्यम से जुड़े ।

कुमार ने जिलेवार पौधारोपण अभियान की तैयारियां, व्यवस्था और आम समस्यायों का जायजा ( Check) लिया। उन्होंने निर्देश दिये कि पौधों का रखरखाव और उनकी सुरक्षा कम से कम अगले 3 वर्ष तक सुनिश्चित होनी चहिये। साथ ही पौधा रोपण (tree planting) जमीन पर निराई-गुड़ाई और पानी की उचित व्यवस्था बनी रहे। 

पौधारोपण के लिए बने गड्डो का तय हो पैरामीटर

मुख्य सचिव ने निर्देश दिए की पौधा रोपण के लिए बने गड्डो का पैरामीटर (parameters) तय हो जिससे पौधों का उचित विकास हो सके। इसके लिए संबंधित जिले के डीएफओ (DFO) अपने सभी ग्राम पंचायत स्तर तक ग्राम विकास (Village development) अधिकारी को यह निर्देश पहुंचना सुनिश्चित करें। 

गौशाला के आसपास पौधारोपण अधिक हो

पौधों की नियमित सिंचाई के लिए कुमार ने चारागाह जमीन पर पौंड (pound) खुदवाने के निर्देश दिये जिससे लंबे समय तक पौधे जीवित रह सकें। साथ ही गौशाला के आसपास पर्याप्त पानी की व्यवस्था होने के कारण उन्होंने यह भी सलाह दी की गौशाला के आसपास पौधारोपण (plantation) अधिक हो।

स्थानीय पौधे लगाने पर भी जोर

कुमार ने विभिन्न जिलों में वहां की भौगोलिक स्थिति (geographical situation) को देखते हुए वहां जीवित रहने वाले स्थानीय पौधे लगाने पर भी जोर दिया। जिससे पौधे अधिक से अधिक समय तक पर्यावरण के अनुकूल जीवित रह सके। 

बैठक के दौरान शासन सचिव एवं आयुक्त पंचायतीराज रवि जैन, ई.जी.एस. (E.G.S.) आयुक्त टीना डाबी सहित विभाग के अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे। 

Must Read: कांग्रेस-बीजेपी और भ्रष्टाचार का सफाया करने आ गई ’आप’ की झाड़ू

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :